Tuesday, 14 September 2021

Dewas - ABVP की मांग पर LLM पाठ्यक्रम की संबद्धता के लिए कुलपति ने दिए आदेश | Kosar Express

 



देवास। एलएलएम पाठ्यक्रम की संबद्धता को लेकर अभाविप प्रतिनिधिमंडल ने विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति से भेंट की और ज्ञापन सौंपा। कुलपति ने अभाविप की तत्काल प्रभाव से मांग को स्वीकार कर संबद्धता देने का आदेश जारी किए। नगर मंत्री राजवर्धन यादव ने बताया कि गत दिवस देवास विधि महाविद्यालय में एलएलएम कोर्स को राज्य शासन द्वारा मान्यता दी गयी थी, जिसके लिए अभाविप द्वारा लगातार कई वर्षों से आंदोलन भी गए गए थे। एलएलएम कोर्स प्रारम्भ होने से देवास जिले के कानूनी शिक्षा प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों में हर्ष भी व्याप्त है, परंतु एलएलएम कोर्स की संबद्धता विक्रम विश्वविद्यालय के पास लंबित थी, जिस कारण उक्त कोर्स के अंतर्गत विद्यार्थियों को  इस सत्र में प्रवेश नही मिल पा रहा था। जिससे विद्यार्थियों का पूरा शैक्षणिक वर्ष शून्य हो रहा था एवं उन्हें उक्त एलएलएम कोर्स के देवास जिले में होने के कारण भी अन्य जिलों में प्रवेश हेतु मजबूरी में जाना पड़ रहा था। उपरोक्त समस्या से अभाविप के प्रतिनिधि मंडल ने कुलपति से मुलाकात कर अवगत कराया व ज्ञापन सौंपा। कुलपति ने उक्त समस्या पर तत्काल प्रभाव से कार्यवाही करते हुए संबद्धता प्रदान करने संबंधित आदेश जारी किए। 


मध्यप्रदेश सरकार का बड़ा फैसला, 50% उपस्थिति के साथ 20 सितंबर से शुरू होगी 1 से पांचवी तक की कक्षाएं | Kosar Express

 

सांकेतिक तस्वीर

भोपाल। मध्य प्रदेश के स्कूल शिक्षा विभाग ने बड़ा फैसला लिया है। इसके तहत कोविड 19 के कारण प्रभावित हुई पढ़ाई को पटरी पर लाने के लिए शासन ने अब शालाओं को भी खोलने का निर्णय लिया है। प्रदेश में 20 सितंबर से कक्षाओं को पुनः प्रारंभ किया जा रहा है। विद्यार्थियों के साथ ही सभी शिक्षक कोरोना प्रोटोकॉल का पालन आवश्य करें, जिससे पढ़ाई सुचारू रूप से चलती रहे।



सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि कोविड 19 के संकट के बाद मध्यप्रदेश महा वैक्सीन अभियान और कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन कर हम पुन: उस स्थिति में पहुंच चुके हैं जहां हम शालाओं को फिर से शुरु कर सकें।अत: हमने 20 सितंबर 2021 से कक्षा 1 से 12वीं तक की सभी शासकीय और अशासकीय शालाओं को पुन: प्रारंभ करने का निर्णय लिया है। कक्षा 11वीं के विद्यार्थियों के लिए छात्रावास कुल क्षमता के 50% के साथ प्रारंभ किये जाएंगे। कक्षा 8वीं, 10वीं एवं 12वीं के छात्रों के लिए आवासीय विद्यालय शत-प्रतिशत क्षमता से संचालित होंगे। कक्षा 11वीं के विद्यार्थियों के लिए भी विद्यालय एवं छात्रवासा 50% क्षमता के साथ खुलेंगे। 



Monday, 13 September 2021

Video | Dewas - नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले आरोपी का घर प्रशासन ने तोड़ा, शीलनाथ धुनी के पास आरोपी ने साथी के मिलकर दिया था घटना को अंजाम | Kosar Express



देवास। नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म के मामले में देवास पुलिस एक्शन मूड में दिखाई दी। पुलिस अमला प्रशासन की टीम के साथ आरोपी मुस्तफा के घर पहुँचा व उसे जमींदोज कर दिया। पुलिस द्वारा की गई इस सख्त कार्यवाही को आरोपियों के बड़ते मंसूबों को नशते नाबूत कर पूरी तरह कुचलने वाला कदम बताया जा रहा हैं।



पिछले दिनों ओधोगिक थाना अंतर्गत मुस्तफा मंसूरी नामक आरोपी द्वारा एक 14 वर्षीय नाबालिग बच्ची को बहला फुसलाकर कर उसके साथ दुष्कर्म जैसी घिनौनी वारदात को अंजाम दिया गया था। मामले में पुलिस ने तुंरत कार्यवाही करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था। जहां से उसे जेल भेज दिया गया था।

दरअसल आरोपी मंसूरी ने बच्ची से इंस्टाग्राम पर दोस्ती कर उसे एकांत जगह में मिलने के लिए बुलाया था व अपने एक साथी साहिल के साथ मिलकर उसके साथ गलत काम किया था। मौके पर कुछ लोगों को आता देख आरोपी बच्ची को जान से मारने की धमकी देकर वहां से भागा था। जिसे तत्काल गिरफ्तार कर पुलिस ने  विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज कर आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया था।



मामले में एसपी डॉ शिवदयाल सिंह ने बताया कि आरोपी मुस्तफा को गिरफ्तार कर जेल भेजने के साथ ही पुलिस द्वारा उसके मकान को ध्वस्त करने की कार्यवाही की गई हैं। जो भी अपराधी हो उसे सख्त कार्यवाही करते हुए इसे ही कुचला जाएगा।

Tuesday, 7 September 2021

Dewas - आबकारी अधिकारी ट्रांसफर होने के बाद भी देवास से नहीं हो रहे रिलीव, आखिर क्यों जबकि उनके समकक्ष 2 अधिकारी और मौजूद है देवास आबकारी मे | Kosar Express

 




देवास। आबकारी की कुर्सी का मोह यहां शुभ लाभ का फंडा तबादले के बाद भी आबकारी अधिकारी रवि दुबे अपनी कुर्सी करीब 20 दिन बीत जाने के बाद भी नहीं छोड़ रहे। आबकारी अधिकारी रवि दुबे रिलीव नहीं हो रहे। वहीं सूत्रों की माने तो देवास व शाजापुर में रवि दुबे के रिलीव नहीं होने के कारण काम प्रभावित हो रहा है। वही 20 दिन हो जाने के बाद भी अधिकारी के रिलीव नहीं होने से विभाग की कार्यप्रणाली सवालों में है। तबादले के बावजूद जॉइनिंग नहीं करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए थे आबकारी अधिकारी पर निर्देश का कोई असर नहीं हो रहा है।

देखें कल पूरी खबर विस्तार से...

Monday, 6 September 2021

Dewas - मोबाइल पर खेल रहा था PubG गेम, चिल्लाया और हो गई मौत | Kosar Express

 

सांकेतिक तस्वीर

देवास। ऑनलाइन मोबाइल गेम की वजह से कई हादसे होते है, ऐसा ही एक और हादसा सामने आया है। युवा वर्ग से ले कर स्कूल छात्र तक ऑनलाइन मोबाइल गेम्स खेलते हुए दिखाई देते है। देवास के अमोना में एक 11 वीं का छात्र पबजी गेम खेल रहा था। खेलते-खेलते अचानक से चीखा और बेहोश हो गया। परिजन उसे अस्पताल लेकर गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


मृतक दीपक



जानकारी के अनुसार देवास के अमोना में पबजी खेलने के दौरान 11वीं के छात्र दीपक पुत्र रमेशचंद्र राठौर उम्र 19 वर्ष की रविवार को मौत हो गई है। वह गेम खेलते समय अचानक चीखा और बेहोश हो गया। परिवार वाले उसे अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत बता दिया। परिवार वालों का कहना है कि वह दिव्यांग था, इसलिए बाहर कम ही जाता था। घर पर हर समय गेम खेलता रहता था। दो दिन से वह ज्यादा ही गेम खेलने लगा था। वह रविवार दोपहर अपने घर पर मोबाइल पर गेम खेल रहा था, तभी अचानक जोर से चीखा और बेहोश हो गया उसके बाद उसे अस्पताल लेकर गए, तब तक उसकी मौत हो गई थी।


औद्योगिक पुलिस ने अज्ञात कारणों को लेकर मामला दर्ज किया है। पीएम के बाद सोमवार सुबह शव परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस का कहना है कि मौत स्थिति स्पष्ट करने के लिए मृतक की विसरा रिपोर्ट भोपाल भेजी जाएगी।

हमें फेसबुक पर लाइक करें 

Saturday, 4 September 2021

Dewas - हत्या करने वाले आरोपियों को न्यायालय ने दिया आजीवन कारावास, तीन साल पहले बस स्टैंड पर चाकू मारकर की थी हत्या | Kosar Express

 


देवास। तीन वर्ष पूर्व देवास बस स्टेण्ड पर मामूली कहासुनी ने बड़ा रूप ले लिया था, बस स्टेण्ड स्थित एक ढाबा संचालक की हत्या चाकू गोदकर कर दी गई थी। बताया गया था कि दो लोगों के विवाद में समझाईश देने के लिए होटल संचालक पहुंचा तो उसकी ही चाकू गोदकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले को लेकर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 302 में प्रकरण पंजीबद्ध कर मामले को विवेचना में लिया था। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर प्रकरण न्यायालय में पेश किया था। प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन था। जिसके बाद शनिवार को विशेष न्यायाधीश ने प्रकरण में सुनवाई करते हुए आरोपियों को आजीवन कारावास से दंडित किया है।


 जिला लोक अभियोजन अधिकारी राजेन्द्र सिंह भदौरिया ने बताया कि-अभियोजन का मामला इस प्रकार है कि दिनांक 26.06.2018 को रात्रि 3 बजे फरियादी मोंटी ने पुलिस थाना देवास में इस आशय की मौखिक रिपोर्ट कि वह भवानी सागर देवास में रहता है और उसके पिता ने, बस स्टेण्ड देवास में बजरंग होटल के पास 10-12 दिन पहले, एआर भोजनालय किराये से लेकर चालू किया है। आज रात्रि करीब 12.30 बजे वह और उसके होटल में काम करने वाला राहुल दायमा कुम्हार गली में पेशाब करने गये थे, तो देखा कि वहां पर कुछ पड़ा था। दोनों डर गये व चिल्लाते हुय सुलभ कॉम्पलेक्स के पास से बस स्टेण्ड के पास आ गये।


यह था पूरा मामला 

बस स्टेण्ड के पास गली में वासुदेवपुरा के रोहन कहार व छोटू कहार पेशाब कर रहे थे। रोहन ने उसे चांटा मारा और बोला कि क्यों चिल्ला रहे हो तथा छोटू ने चाकू निकाल कर राहुल के गले पर रख दिया, तो दोनों भाग कर अपने होटल पर आ गये और घटना अपने पिता को बताई, तब उसके पिता उसके साथ बसे स्टेण्ड आये। मनोज की होटल के पास खड़े छोटू कहार व रोहन कहार को उसके पिता बोले कि ‘‘तुमने मेरे बच्चों को क्यों मारा’’? इसी बात पर उन्होंने उसके पिता को मां बहन की अश्लील गालियां दी तथा झगड़ा करने लगे और मारने को दौड़े तो उसके पिता भागने लगे तो रोहन ने उसके पिता को पकड़ लिया और छोटू ने उसके पिता के बाई तरफ सीने के पास तथा बाएं हाथ की कोहनी में चाकू से मारा, जिससे खून निकलने लगा। वह चिल्लाया तो कार्तिक, विनोद व अंकल प्रकाश आ गये तो दोनों वहां से भाग गये। उपरोक्त घटना के उपरान्त वह अपने पिता को 100 डायल से इलाज कराने हेतु एमजीएच लेकर गया, जहां डॉक्टर ने देखकर उसके पिता को मृत होना बताया। फिर वह अपने भाई व अंकल के साथ रिपोर्ट करने थाने गये जिस पर आवश्यक कार्यवाही कर आरोपीगणों को गिरफ्तार कर अन्य आवश्यक अनुसंधान उपरान्त अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।


 विशेष न्यायाधीश अ.जा./अ.ज.जा. (अत्याचार निवारण) अधिनियम द्वारा शनिवार 4 सितंबर 2021 को निर्णय पारित कर आरोपीगण आकाश उर्फ छोटू आयु 19 वर्ष निवासी 106 वासुदेवपुरा, देवास व आरोपी रोहन कहार आयु 21 वर्ष निवासी 75 वासुदेवपुरा, देवास को धारा 302/34 के आरोप में ‘‘आजीवन कारावास’’ के दण्ड व 1-1 हजार रूपये के अर्थदण्ड तथा धारा 323/34 के आरोप में 1-1 वर्ष सश्रम कारावास और 100-100 रूपये के अर्थदण्ड से दंडित किया गया। उक्त प्रकरण में शासन की ओर विशेष लोक अभियोजक अतुल पण्ड्या, (एससी/एसटी एक्ट जिला देवास) द्वारा पैरवी की गई एवं कोर्ट मोहर्रिर गोपीकृष्ण बड़ौले का विशेष सहयोग रहा।       

Friday, 3 September 2021

Dewas - आगामी त्यौहारों एवं धार्मिक कार्यक्रमों को लेकर धारा 144 में संशोधित आदेश जारी, गाईड लाईन का पालन करते हुए मना सकते हैं त्यौहार | Kosar Express

 



  • प्रतिमा/ताजिये(चेहल्लुम) के लिए पण्डाल का आकार अधिकतम 30x45 फीट 

  • विसर्जन स्थल पर जाने के लिए अधिकतम 10 व्यक्तियों के समूह की अनुमति 

  • जिला प्रशासन द्वारा चिन्हित निर्धारित विसर्जन स्थलों पर ही सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए प्रतिमाएं/ताजियों का होगा विसर्जन

  • कोविड संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए धार्मिक/सामाजिक आयोजन के लिए चल समारोह निकालने की अनुमति नहीं होगी


देवास। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री चन्द्रमौली शुक्ला ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144, The Epidemic Disease Act, 1897 एवं National Disaster Management Act-2005 के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुए सम्पूर्ण जिले में आगामी त्यौहारों एवं धार्मिक कार्यक्रमों को दृष्टिगत रखते हुए संशोधित प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये है। 


जारी आदेशानुसार प्रतिमा/ताजिये(चेहल्लुम) के लिए पण्डाल का आकार अधिकतम 30x45 फीट नियत किया है। झाकी निर्माताओं को निर्देशित किया जाता है कि वे ऐसी झांकियों की स्थापना एवं प्रदर्शन नहीं करे जिनमें संकुचित जंगह (Constricted Space) के कारण श्रद्धालुओं/दर्शकों की भीड़ की स्थिति बने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना हो सके। झांकी स्थल पर श्रद्धालुओं/दर्शकों की भीड़ एकत्र नहीं हो तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो इसकी व्यवस्था आयोजकों को सुनिश्चित करना होगी। मूर्ति ताजिये (चेहल्लुम) का विसर्जन संबंधित आयोजन समिति द्वारा किया जाएगा। विसर्जन स्थल पर ले जाने के लिए अधिकतम 10 व्यक्तियों के समूह की अनुमति होगी। इसके लिए आयोजकों को संबंधित एसडीएम से लिखित अनुमति प्राप्त किया जाना आवश्यक होगा। जिला प्रशासन द्वारा चिन्हित निर्धारित विसर्जन स्थलों पर ही सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए प्रतिमाएं/ताजियों का विसर्जन किया जाएगा। कोविड संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए धार्मिक/सामाजिक आयोजन के लिए चल समारोह निकालने की अनुमति नहीं होगी। विसर्जन के लिए सामूहिक चल समारोह की अनुमति नहीं होगी। लाउड स्पीकर बजाने के संबंध में माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जारी की गई गाईड लाईन का पालन किया जाना अनिवार्य होगा।  सार्वजनिक स्थानों पर कोविड संक्रमण से बचाव के तारतम्य में झांकियों/पाण्डालों/ विसर्जन के आयोजनों में श्रद्धालु/दर्शक फेस कवर सोशल डिस्टेंसिंग एवं सेनेटाईजर का प्रयोग के साथ ही राज्य शासन द्वारा समय-समय पर जारी किये गये निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जावे। इस आदेश का उल्लंघन भारतीय दंड संहिता, 1860 की धारा 188 के अन्तर्गत दण्डनीय अपराध होगा एवं पूर्व में जारी कोरोना संबंधित आदेश यथावत रहेंगे।