Sunday, 3 June 2018

भोपाल व देवास समेत कई शहरों में नौतपा के आखिरी दिन प्री-मानसून बारिश, सोनकच्छ में आेले गिरे | Kosar Express

अब संभावना यह है कि यह तय समय से पहले मप्र व भोपाल में नहीं आ सकेगा।



भोपाल/देवास. नौतपा के आखिरी दिन शनिवार को भोपाल समेत मालवांचल के देवास, चापड़ा, कन्नौद, धार, महू में भी प्री-मानसून बारिश हुई। कई जगह आंधी के साथ बारिश हुई। सोनकच्छ में ओले भी गिरे। वहीं मानसून की रफ्तार धीमी पड़ गई है। यह पिछले तीन-चार दिन से कर्नाटक से आगे नहीं बढ़ पा रहा है। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला एवं मौसम एक्सपर्ट एसके नायक ने बताया कि अब संभावना यह है कि यह तय समय से पहले मप्र व भोपाल में नहीं आ सकेगा। ऐसा कोई सिस्टम नहीं बना और हालात अनुकूल नहीं हैं। इस वजह से यह आगे नहीं बढ़ सका।



राजधानी में 20 दिन बाद 42 डिग्री से नीचे आया
- नौ तपा के आखिरी दिन शनिवार को शहर में मौसम का मिजाज बदल गया। शहर के कई इलाकों में प्री मानसून फुहारें पड़ीं। शहर में शनिवार सुबह से ही बादल छाए थे। दोपहर 12.30 बजे के बाद तीखी धूप निकल आई।

- तीन बजे के बाद फिर बादल छा गए। कई इलाकों में हल्की बारिश हुई। कहीं- कहीं तेज फुहारें भी पड़ीं। इस वजह से मौसम में ठंडक भी घुली। मौसम के तेवर बदलते ही दिन का तापमान भी करीब 1 डिग्री लुढ़क गया।

- भीषण गर्मी से तप रही राजधानी में दिन पारा 20 दिन बाद 42 डिग्री से नीचे आया। रात के तापमान में भी करीब एक डिग्री की गिरावट हुई।


नमी अौर तपिश के मिलने से पड़ीं फुहारें
मौसम वैज्ञानिक ममता यादव ने बताया कि मानसून धीरे- धीरे आगे बढ़ रहा है। इस वजह से निचले और मध्यम स्तर के वातावरण में नमी भी बढ़ी है। तापमान पहले से ही ज्यादा था। नमी आैर तपिश दोनों के मिलने से प्री मानसून फुहारें पड़ीं।


भोपाल - तेज हवा से एयरपोर्ट की बाउंड्रीवाॅल का हिस्सा टूटा
एयरपोर्ट की सीमा दीवार शुक्रवार शाम तेज हवाओं के कारण भरभराकर गिर गई। एयरपोर्ट की बाउंड्रीवॉल का करीब 10 फीट चौड़ा हिस्सा एप्रोच लाइटिंग सिस्टम के पास का है। एयरपोर्ट डायरेक्टर अनिल विक्रम ने बताया कि बाउंड्रीवॉल टूटने की जानकारी मिलते ही उसे दुरुस्त कराने के निर्देश दे दिए हैं।


पहली बारिश में ही मुंबई में 3 की मौत, यूपी में आंधी-तूफान से 19 की जान गई
हिमाचल प्रदेश के साथ ही महाराष्ट्र के कई इलाकों में शनिवार को प्री-मानसून की बारिश हुई। मुंबई में बारिश के दौरान करंट लगने से तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं उप्र में शुक्रवार रात को आए आंधी-तूफान और बारिश से 19 लोगों की मौत हो गई और 32 लोग घायल हुए।

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.